Home Computer Tips Computer virus kya hai ? कंप्यूटर वायरस की जानकारी

Computer virus kya hai ? कंप्यूटर वायरस की जानकारी

Computer virus kya hai दोस्तों इस डिजिटल दुनिया में आपने वायरस शब्द का नाम तो जरूर सुना होगा! और कई बार आपने किसी व्यक्ति को।यह कहते सुना होगा कि “मेरे PC में वायरस आ गया है”!

दोस्तो कहने का मतलब है कि आख़िर यह वायरस क्या होता है? और यह वायरस आपके कंप्यूटर में कैसे आता है? और कैसे आप पता कर सकते हैं कि आपके कंप्यूटर में वायरस आया है या नहीं! इसके साथ ही आपके कंप्यूटर में virus आ जाता है तो आप उसे कैसे Remove कर सकते हैं!

दोस्तों इन सभी सवालों के जवाब आपको आज के इस लेख में मिल जाएंगे! अतः यदि आप वायरस के बारे में पूरी जानकारी पाना चाहते हैं तो आज के इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़ें!

आज कंप्यूटर का इस्तेमाल ऑफिस तथा घर-घर में किया जा रहा है! अब ऐसी स्थिति में हमारा कंप्यूटर जब इंटरनेट से कनेक्ट होता है तो जरा सी लापरवाही से आपके कंप्यूटर में वायरस आ सकता है! जिससे आप बड़ी मुसीबत में पड़ सकते हैं!

इसलिए इस महत्वपूर्ण डिजिटल डिवाइस को सुरक्षित रखने के लिए आपको कंप्यूटर वायरस के बारे में जानकारी होनी बेहद आवश्यक है! जिससे आप इस जानकारी के जरिए भविष्य में खुद की तथा दूसरों की मदद कर सकते हैं!

सबसे पहले जानते हैं कि Computer Virus क्या होता है ?

कंप्यूटर वायरस Malicious कोड या प्रोग्राम होता है! इस प्रोग्राम को बनाने का मुख्य उद्देश्य कंप्यूटर को Operate करने के तरीके को बदलना होता है! तथा इसे एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में फैलाने के लिए डिजाइन किया गया होता है!

दोस्तोंसरल शब्दों में वायरस को समझें तो कंप्यूटर वायरस एक प्रोग्राम फाइल होती है जिसे हैकर्स या अन्य लोगों द्वारा अवैध कार्यों को पूरा करने के लिए विकसित किया जाता है !

दोस्तों हमारा कंप्यूटर प्रोग्रामिंग,Coading के जरिए कार्य करता है! और आप कंप्यूटर वायरस को इस तरह समझ सकते हैं कि जब कंप्यूटर की प्रोग्रामिंग में एक character मैं बदलाव कर दिया जाता है तो पूरी प्रोग्रामिंग बदल जाती है! जिससे वह प्रोग्राम कार्य करना बंद हो जाता है या फिर वह अलग तरीके से कार्य करता है!

ठीक उसी प्रकार जो वायरस होता है वह एक सॉफ्टवेयर ( प्रोग्रामिंग कोड )होता है तथा इस सॉफ्टवेयर में इस तरह कोडिंग की जाती है कि जब वह किसी कंप्यूटर में install होता है, तो वह कंप्यूटर के जरूरी डाटा जैसे इमेज, डाक्यूमेंट्स को ऑटोमेटिक डिलीट या फिर उस डाटा को किसी Server के पास भेज देता है!

इसलिए कंप्यूटर वायरस का इस्तेमाल किसी single या नेटवर्क से जुड़े सभी कंप्यूटर को क्षतिग्रस्त करने के लिए किया जाता है!

यदि आपके कंप्यूटर में वायरस आ जाता है! तो आपके कंप्यूटर के डैमेज(क्षतिग्रस्त) होने की संभावनाएं काफी बढ़ जाती है! तथा दोबारा कंप्यूटर को ठीक करने में काफी परेशानी उत्पन्न होती है जिससे कई बार हमें अपना सारा जरूरी डाटा भी खोना पड़ता है!

तो दोस्तों इस तरह उम्मीद है आप समझ चुके होंगे कंप्यूटर वायरस क्या है? अब हम जानते हैं की आखिर आपके कंप्यूटर में वायरस कैसे आता है?

आपके कंप्यूटर में वायरस आने के कई सारे कारण हो सकते हैं यहां आपको उनमें से कुछ मुख्य कारणों के बारे में बताया जा रहा है!

Accept without read

कई बार जब हम इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तो हमारे सामने कोई pop up या prompt show होता है! तो हम उसे बिना पढ़े उसे Accept कर लेते हैं!
उदाहरण के तौर पर जब हम इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तो कहीं बाहर new windows ओपन होती है जिसमें दिखाई देता है कि आपके कंप्यूटर में वायरस है और इस वायरस को रिमूव करने के लिए आपको इस सॉफ्टवेयर की जरूरत पड़ेगी!

और हम बिना उस सॉफ्टवेयर के बारे में पूरी जानकारी लिए बगैर उस Prompt को एक्सेप्ट कर लेते हैं!

परंतु हो सकता है जिस फाइल या प्रोग्राम को आपने एक्टिवेट एक्सेस किया है उसमें इस तरह कोडिंग की गई हो जिससे किसी यूज़र कि कंप्यूटर में वायरस उत्पन्न हो जाए!

Unknown software

दोस्तों इसके अलावा जब आप pc में किसी सॉफ्टवेयर/ प्रोग्राम को अपडेट करते हैं! तो उस दौरान भी आपसे सवाल पूछा जाता है एक additional सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने के लिए!
तथा जब आप सॉफ्टवेयर की पूर्ण जानकारी बगैर next या ok क्लिक करते हैं तथा वह प्रोग्राम आपके कंप्यूटर में इंस्टॉल हो जाता है!तो इससे भी आपको बाद में समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

इसलिए किसी भी सॉफ्टवेयर को अपने कंप्यूटर में इंस्टॉल करने से पूर्व उसकी पूरी जानकारी अवश्य लें!

Infected software downloading

दोस्तों दूसरी बात यह है कि जब भी आप कंप्यूटर पर Utilities, Games, Updates, किसी सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करने जा रहे हैं उससे पूर्व आप जांच लें कि आप विश्वसनीय sources से उस फाइल को डाउनलोड कर रहे हैं या नहीं?

उदाहरण के लिए यदि आप फोटोशॉप के crack वर्जन को किसी unknown वेबसाइट से डाउनलोड कर रहे हैं! तो हो सकता है कि उसमें किसी तरह की वायरस प्रोग्रामिंग हो! अतः इससे बचने के लिए हमेशा genuine सॉफ्टवेयर को उनकी ऑफिशियल साइट या फिर secure वेबसाइट से ही डाउनलोड करें!

Email attachment

आपको रोजाना ढेरों ई-मेल आते होंगे और इसी बीच हो सकता है इनमें से पूछे ऐसी Mail आती हो जिसमें आपको किसी ईमेल अटैचमेंट को ओपन करने को कहा जाए!

और जब आप बिना किसी कारण या पूर्ण जानकारी बगैर उस अटैचमेंट्स को ओपन करते हैं उसमें Malicious कोड हो सकता है जिससे आपके कंप्यूटर में वायरस आ सकता है!

तो दोस्तों जब भी अपने दोस्तों,रिश्तेदारों द्वारा या किसी व्यक्ति द्वारा भेजे गए link या अटैचमेंट को डाउनलोड करें उससे पूर्व उसकी पूरी जानकारी लें! अन्यथा आपके कंप्यूटर के क्षतिग्रस्त होने के chances बढ़ जाएंगे!

Inserting disk

हमेशा अपनी कंप्यूटर में जब भी आप एक्सटर्नल हार्ड ड्राइव, पेन ड्राइव को अटैच करते हैं! तो उससे पूर्व जांच लें कि कहीं इस drive में वायरस तो नहीं है अन्यथा इन उपकरणों में store वायरस आपके पूरे कंप्यूटर में फैल सकता है!

Unknown link

दोस्तो आज इंटरनेट तेजी से लोगों तक पहुंच रहा है तो ऐसी स्तिथि में कई Malicious व्यक्ति वेबसाइट क्रिएट करते हैं! तथा virus फैलाने के उद्देश्य से उन वेबसाइट में coading की जाती है! तथा वेबसाइट बनने के बाद यह लोग whatsapp फेसबुक तथा अन्य सोशल प्लेटफॉर्म में वेबसाइट के लिंक को शेयर करते हैं!

तथा जब जाने-अनजाने में बिना लिंक के बारे में सूचना लिए बगैर जब यूजर link पर क्लिक करता है तो उसके कंप्यूटर में वायरस आने के संभावनाएं आ जाती हैं!

इसलिए WhatsApp या किसी भी सोशल प्लेटफॉर्म पर यदि आपको कोई व्यक्ति लिंक भेजता है तो उस लिंक पर सोच समझकर ही क्लिक करें! अन्यथा आपके कंप्यूटर में भी वायरस आ सकता है और उपयोगी डाटा खतरे में पड़ सकता है!

दोस्तों इसके अलावा अपने ऑपरेटिंग सिस्टम को समय के साथ अपडेट करना भी किसी कंप्यूटर user की सुरक्षा के लिए बेहतर साबित होता है! जिससे वायरस आने की संभावनाएँ काफी कम हो जाती है!

तो दोस्तों यह थे कुछ मुख्य कारण जिनको अपनाकर आप अपने कंप्यूटर को वायरस आने से काफी हद तक बचा सकते हैं!

कैसे पता करें कि आपके कंप्यूटर में वायरस आ चुका है?

आमतौर पर वायरस एक Malicious software है, जिसे हम malware कहते है. यह आपके computer या mobile की personal information चुरा सकते है या आपके system को damage पहुँचा सकते है. कुल मिलाकर यह कंप्यूटर के लिए एक बेहतरीन चीज नही है.

तो यदि आपके कंप्यूटर में वायरस मौजूद हो तो आप कैसे पता करेंगे? जब हमारे कंप्यूटर या मोबाइल में इस तरह की कोई गड़बड़ होती है, तो वह खुद हमे संकेत देते है. नीचे हम आपको ऐसे ही कुछ symptoms अथवा sign बतायेंगे जिससे आप जान सकते है, कि आपके कंप्यूटर में virus है या नही.

Slow internet speed

यदि आपकी internet speed लगातार कुछ समय से अधिक slow हो गयी है, तो आपको यह जांचना चाहिए कि कही यह computer virus की वजह से तो नही. ऐसी समस्या उन कंप्यूटर उपयोगकर्ता के साथ होती है, जो बिना किसी antivirus program के लगातार इंटरनेट का उपयोग करते है.

Unexpected advertisement

कई बार हमारे computer पर बीच – बीच में pop-up window खुलने लगती है. जिसमे विज्ञापन दिखाई देते है. यह unexpected on-screen advertisement किसी virus infection का संकेत हो सकता है. ऐसे किसी भी pop-up ad पर क्लिक नही करना चाहिए. कई बार विज्ञापन में ही यह बताया जाता है कि आपके कंप्यूटर में वायरस मौजूद है. उसे हटाने के लिए यह antivirus download करे. लेकिन वास्तव में वह एक computer virus होता है.

Slow performance

अक्सर यह कम RAM या less hard disk होने की वजह से भी होता है, परन्तु यदि आपके कंप्यूटर में पर्याप्त space मौजूद है, तो यह किसी computer virus की वजह से भी हो सकता है. अगर आपका PC शुरू होने में अधिक समय ले रहा है या किसी program के खुलने में ज्यादा load time लग रहा है, तो आपके कंप्यूटर में वायरस हो सकता है.

Error massage

ब्राउज़र इस्तेमाल करने के दौरान यदि आपकी स्क्रीन पर error massage या warning alert आने लगे तो इसका कारण आपके कंप्यूटर में मौजूद virus भी हो सकता है. कई प्रकार के computer virus यदि आपके सिस्टम में मौजूद हो तो वह दूसरे कई वायरस के लिए रास्ते खोल देते है.

Security attacks

यदि आप अपने किसी document या program को खोल नही पा रहे, तो इसका अर्थ हुआ कि आपका कंप्यूटर एक dangerous virus से संक्रमित हो चुका है. कुछ computer virus इसलिए design किये जाते है, ताकि वह किसी सिस्टम की security को तोड़ सके.

Missing or extra files

वायरस आपके कंप्यूटर में फैलने के साथ खुद की या unwanted files की copies install करते रहता है. जिससे आपकी RAM या hard disk भरने लगती है. इसके साथ ही यह अप्रत्याशित रूप से files को computer से remove कर देते है. यदि आप अपने कंप्यूटर पर कुछ इस तरह की गड़बड़ देख रहे है, तो तुरंत virus scan करे.

Unnecessary emails

यदि आपके मित्र को आपकी तरफ से emails या message प्राप्त होते है, जिसमे किसी attachment को खोलने या link पर क्लिक करने को कहा गया हो, तो इसका मतलब आपका कंप्यूटर virus infected है. जिस कारण वह आपके खाते से अन्य कंप्यूटरों में फैलने का प्रयास कर रहा है. इसके लिए तुरंत अपना password बदले.

System crashes

अगर आपका computer system अचानक crash हो जाता है या अधिक hang करने लगता है, तो इसका कारण computer virus भी हो सकता है. वायरस आपकी हार्ड ड्राइव को नुकसान पँहुचाते है. यदि आपका कंप्यूटर ऐसी परिस्थिति झेल चुका है तो अपने कंप्यूटर में antivirus software जरूर चलाये.

दोस्तो अब यहाँ सवाल आता है कि कंप्यूटर से वायरस कैसे remove करें?

दोस्तों यहां हम आपको ऐसे सॉफ्टवेयर के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे आप अपने कंप्यूटर में वायरस को आसानी से remove कर सकते हैं!

दोस्तों यह एक paid एप्लीकेशन है जिसका इस्तेमाल करने के लिए आपको पैसे खर्च करने होंगे! परंतु 14 दिन के लिए free में अपने यूजर्स को वायरस रिमूव करने की सुविधा देता है!

तो दोस्तो सबसे पहले आप कंप्यूटर में Malware bytes नामक इस application को इंस्टॉल कर लीजिए! इंस्टॉल होने के बाद इस app को ओपन कीजिए!.

और यहां आपको scan now का ऑप्शन दिखाई देगा! जैसा कि आप स्क्रीनशॉट में देख सकते हैं! आप scan now के बटन पर क्लिक करने के बाद यह आपके कंप्यूटर में सभी वायरस को scan करेगा!

यदि आपके कंप्यूटर में वायरस होगा तो आपको यह बता देगा!

scan कंपलीट करने के बाद जो वायरस detect होंगे उन्हें इस ऑप्शन quarantine selected पर क्लिक करने के बाद आप इन वायरस को डिलीट कर सकते हैं! और इस प्रकार आपके pc से वायरस remove हो जाएगा! आपको किसी Paid Antivirus का इस्तेमाल करने की सलाह दूंगा. नीचे दस ऐसे Antivirus की सूची दी गयी है, जिन्हें आप online या offline दोनों तरीको से खरीद सकते है.

  • Quick Heal
  • Kaspersky internet security
  • BitDefender
  • Norton
  • McAfee
  • Avast
  • Guardian total security
  • Avg antivirus
  • K7 antivirus
  • Avira

कंप्यूटर वायरस से बचने के उपाय

आज के आधुनिक युग मे हर कोई internet और नई technology का उपयोग करता है. इसमे कोई दोहराई नही है, कि टेक्नोलॉजी ने मनुष्यो की जिंदगी को बहुत आसान बना दिया है. परन्तु ज्यादातर लोग इसके खतरे से से वाकिफ नही है. Computer virus और दूसरे प्रकार के malware उन खतरों में से है, जो आपकी online security और data के साथ बहुत बड़ी दुर्घटना कर सकते है. कोई भी व्यक्ति जो इंटरनेट का इस्तेमाल करता है, उसे इनसे बचने के उपायों के बारे में जरूर जानकारी होनी चाहिए.

नीचे बताये तरीको का अनुसरण करने पर आप इन computer virus से बच सकते है.

  • एक premium antivirus का इस्तेमाल करे. अगर आप रोजाना अपने PC में internet का इस्तेमाल करते है, तो आपको इसकी खास जरूरत है.
  • किसी भी अनजानी वेबसाइट से third party application download न करे. ऐसी वेबसाइटों के इस्तेमाल से बचें जो तरह -तरह के offers दे रही हो.
  • अपने कंप्यूटर को up to date रखे. सभी operating system समय – समय पर update लाते रहते है. जिसमे पिछले अपडेट की खामियां को हटाया जाता है.
  • इन computer virus से बचने का एक बेहतरीन तरीका यह है, कि आप malicious program को अच्छे से समझ ले. जैसे यह कैसे दिखते है और किस तरह से फैलते है.
  • E-mail attachment से सावधान रहें. किसी भी email में दिए link या advertisement पर क्लिक न करें. अगर चाहे तो पहले उस ईमेल को antivirus की मदद से scan कर ले.
  • संदिग्ध वेबसाइट (suspicious websites) पर जाने से बचे. आजकल हम हर तरह की जानकारी प्राप्त करने के लिए Search engine (google, bing) का इस्तेमाल करते है. इसीलिये किसी भी वेबसाइट पर जाने से पहले देखे क्या वह trusted source है.
  • अपने कंप्यूटर से किसी Pen drive या hard disk को जोड़ने से पहले यह ध्यान रखे कि आपके पास एक अच्छा एंटीवायरस उपलब्ध हो. अन्यथा infected pen drive आपके कंप्यूटर को नुकसान पहुंचा सकती है.
  • अगर आपके कंप्यूटर पर important data store है, तो उसका backup जरूर रख ले. कोई भी antivirus आपको सौ प्रतिशत सुरक्षा नही देता है.
  • Malware scanner का प्रयोग करे. यह antivirus program से भिन्न है. यह किसी भी तरह के मैलवेयर प्रोग्राम को पकड़ने की हैसियत रखता है.
  • जितना हो सके file sharing करने से बचे. हम बिना सोचे समझे किसी भी device से video, music, movies और image इत्यादि को bluetooth या file sharing tool के माध्य्म से प्राप्त करते है. इससे संक्रमित फाइल हमारे कंप्यूटर या फोन में पहुच सकती है.

यह पोस्ट भी पढ़े…..

Conclusion 

तो दोस्तो आज के लेख में बस इतना ही उम्मीद है आज के इस लेख को पढ़ने के बाद आपको कंप्यूटर वायरस के विषय में कुछ नई जानकारी अवश्य मिली होगी!

आपको यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट के माध्यम से बताना बिल्कुल मत भूलें! और इसी तरह रोजाना टेक्नोलॉजी के विषय पर नई-नई जानकारियां हिंदी भाषा में जानने के लिए आप हमारी email list को subscribe कर tagifind कम्युनिटी के साथ जुड़ सकते हैं! जहां हम आपके लिए रोजाना नई-नई जानकारियां तथा लाभदायक चीज़े आपके साथ शेयर करते हैं! Thanks for visiting in this blog https://www.tagifind.com/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

PUBG Mobile Hack kaise kare? Get Unlimited UC,BP in 2020

क्या आप PUBG game को Hack करना चाहते हैं? तो आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से PUBG MObile Hack kaise kare? इसकी...

WhatsApp Par Online Kaise Chhupaye? 3 latest Tarike

WhatsApp Par Online Kaise Chhupaye? WhatsApp par Online kaise na Dikhe? ऐसे कई सवाल अक्सर इंटरनेट पर लोगों द्वारा सर्च किए जाते हैं! क्योंकि...

WhatsApp Message schedule kaise kare? 2020 Me New Working Trick

सोचिए! कितना बढ़िया होगा आपके बिना WhatsApp ओपन किए ही आपके दोस्तों रिश्तेदारों को सुबह सुबह Good Morning और रात को Good Night के...

YouTube Video HD Me kaise Chalaye ? 2020 Me

YouTube par HD videos kaise dekhe? YouTube video HD me kaise chalaye? 2020 में क्या आप जानना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए...